Categories: Business Ideas

2020 में ड्रैगन फ्रूट की खेती कर कमाएं लाखों रूपये- Dragon Fruit Farming in India

अगर खेती करते हैं या करना चाहते हैं और उससे लाखों रूपये कमाना चाहते हैं तो आप ड्रैगन फल (Dragon Fruit) की खेती (Farming) कर सकते हैं।

ड्रैगन फ्रूट की उत्पत्ति मध्य अमेरिका में हुई थी। इसको पिताया (Pitaya) या पित्ताह के नाम से जाना जाता है। यह अमेरिका की कई अलग-अलग प्रकार की कैक्टस बेल की प्रजातियों का फल है।

वर्तमान में वियतनाम इसका सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक देश है। भारत (India) में भी इसकी मांग काफी बढ़ी है। भारत में कई राज्यों जैसे कर्नाटक, गुजरात, असम, हरियाणा, पंजाब, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश आदि में इसकी खेती की जाती है।

ड्रैगन फ्रूट एक स्वादिस्ट और पौष्टिक फल है। इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, आयरन, विटामिन B, C, E, फाइबर आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

ड्रैगन फ्रूट खाने के फायदे (Benefits of Dragon Fruit)

1. ड्रैगन फ्रूट मोटापे को कम करने में सहायक होता है।

2. ये फल मधुमेह को नियंत्रित करने में सहायक होता है।

3. रोग प्रतिरोधक छमता (Immunity) को बढ़ाता है।

4. कैंसर जैसी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।

5. हड्डियों को मजबूत करता है।

6. हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

ड्रैगन फ्रूट की किस्में (Variety of Dragon Fruit in India)

भारत में ड्रैगन फ्रूट की तीन किस्में पायीं जाती हैं:-

1. गुलाबी ड्रैगन फल (Pink Dragon Fruit):- यह अंदर और बाहर गुलाबी रंग का होता है और इसके अंदर काले रंग के बीज होते हैं।

2. लाल और सफ़ेद ड्रैगन फ्रूट (Red White Dragon Fruit):- इसका बाहरी भाग हल्का लाल रंग का और अंदर का खाने वाला भाग सफ़ेद रंग का होता है और बीज काले रंग के होते हैं।

3. पीला ड्रैगन फल (Yellow Dragon Fruit):- इसका बाहरी भाग पीले रंग का होता है और अंदर का भाग सफ़ेद रंग का होता है और बीज काले रंग के होते हैं।

चूँकि ड्रैगन फ्रूट बेल पर लगने वाला फल है इसलिए इसको लगाने के लिए हमें बेल को चढ़ने के लिए एक सहायक की जरुरत पड़ती है है जिसकी मदद से बेल ऊपर चढ़ सके। इसके एक पौधे में 10-12 ड्रैगन फल प्राप्त होते हैं। बाजार में इनकी अच्छी कीमत मिलती है। 1 kg ड्रैगन फ्रूट की कीमत 200 रूपये से लेकर 250 रूपये या उससे भी ज्यादा होती है। इसकी कीमत इसकी किस्म और क्वालिटी पर निर्भर करती है।

खर्चा कितना होगा (Cost of Dragon Fruit Farming)

शुरुआत में आपको 1 एकड़ में खेती के लिए 5-6 लाख रूपये खर्च करने पड़ सकते हैं। ड्रैगन फ्रूट की खेती करने के लिए आपको निम्नलिखित चीज़ों पर खर्चा करना पड़ेगा:-

खेती के लिए जमीन- सबसे पहले आपको एक जमीन चाहिए होगी जहाँ आप इसकी खेती कर सकें। अगर आपके पास खुद की जमीन नहीं है तो आप किराये पर जमीन ले सकते हैं। एक अच्छी उत्पादन छमता वाले ड्रैगन फ्रूट के पौधे 15-17 साल तक फल दे सकते हैं।

खेती के लिए पौधरोपण या बीजारोपण- अगर हम 8 फ़ीट की दूरी पर बीजारोपण या पौधरोपण करते हैं और प्रत्येक पंक्ति के बीच लगभग 10 फ़ीट की दूरी रखते हैं तो इसके 1 एकड़ में 1800-2000 पौधे लगाए जा सकते हैं। इन पौधों की कीमत इनकी किस्म पर निर्भर करती है। एक पौधे की कीमत लगभग 30-50 रूपये हो सकती है। इसका बीजारोपण करने की बजाय पौधरोपण करना ज्यादा सही है क्योंकि बीजारोपण में समय और पैसा दोनों ज्यादा खर्च करने पड़ते हैं।

सपोर्ट सिस्टम- इसके लिए आपको प्रत्येक पौधे के लिए T आकार वाले सपोर्ट सिस्टम बनाने होंगे। 1 एकड़ में आपको 400-500 पोल्स या सपोर्ट सिस्टम लगाने होंगे। पोल्स आप लकड़ी, स्टील और कंक्रीट के बना सकते हैं। अगर आपका बजट कम है तो शुरू में आप बांस के पोल्स भी लगा सकते हैं लेकिन बांस ज्यादा वजन नहीं सहन कर पायेगा क्योंकि इसके पौधे का वजन बड़ा होने पर बहुत ज्यादा हो जाता है इसके लिए आपको कंक्रीट के सपोर्ट सिस्टम की आवश्यकता होगी। कंक्रीट पोल्स सस्ते और टिकाऊ होते हैं। इसके लिए आपको 1 एकड़ के लिए 2-2.5 लाख रूपये खर्चा करने पड़ेंगे।

लेबर खर्च- इसके लिए आपको अन्य फसलों के मुकाबले ज्यादा लेबर खर्च करना पड़ेगा क्योंकि इसके लिए आपको कुशल और अनुभवी लेबर की आवश्यकता पड़ेगी। इसके रखरखाव के लिए प्रतिवर्ष आपको प्रति एकड़ लगभग 1 लाख रूपये खर्च करने पड़ेंगे।

अन्य खर्च- इसमें आपको कई अन्य खर्च जैसे जमीन को समतल करना, ड्रिप इरीगेशन, फ़र्टिलाइज़र, पेस्टिसाइड आदि करने पड़ेंगे।

मुनाफा कितना होगा (How Much will be the Profit)

ड्रैगन फ्रूट का पौधा लगाने के 8-9 माह में इसमें फल लगने लगते हैं। हालाँकि, पहले साल इसमें कम फल लगेंगे जिससे आपका मुनाफा भी कम होगा लेकिन जैसे-जैसे पौधा बढ़ेगा इसमें ज्यादा फल लगेंगे जिससे मुनाफा बढ़ेगा। इसकी खेती करके आप हर साल एक एकड़ में 8-9 लाख का मुनाफा आसानी से कमा लेंगे।

ध्यान रखने योग्य बातें

1. पौधे खरीदते वक्त इस बात का जरूर ध्यान रखें कि पौधा किस किस्म का है, ग्रोथ कैसी होती है, फल कैसा होता है, प्रोडक्शन कैसा है, कितना तापमान सहन कर सकता है आदि।

2. अगर आपके आस-पास कोई इसकी खेती करता है तो उसके पास जाकर आप इसके बारे में पता कर सकते हैं कि इसका उत्पादन उस एरिया में कैसा है।

3. इसका सपोर्ट सिस्टम मजबूत होना चाहिए ताकि ज्यादा से ज्यादा वजन सहन कर सके।

4. इनकी देखभाल समय पर हो ताकि इनकी ग्रोथ अच्छी हो सके।

5. 40 डिग्री तापमान तक इसकी ग्रोथ अच्छी होती है।

6. कच्चे फल का रंग हरा होता है और जब ये पाक जाता है तो लाल या गुलाबी रंग का हो जाता है।

7. इसकी खेती से सम्बंधित तकनीकी जानकारी अवश्य लें ताकि अच्छी ग्रोथ मिल सके।

Recent Posts

  • Gov. Schemes
  • Latest News

Swamitva Yojana — स्वामित्व योजना क्या है? इस योजना से किसको फायदा होगा?

ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की आवासीय प्रॉपर्टी का पूरा ब्योरा रखने और उन्हें… Read More

1 week ago
  • Latest News
  • Science & Technology

देश में बनी भारत की पहली एंटी रेडिएशन मिसाइल ‘रुद्रम-1’ की खास बातें

हाल ही में भारत ने स्वदेश निर्मित पहली एंटी रेडिएशन मिसाइल (Anti-Radiation Missile) 'रुद्रम-1' ओडिशा… Read More

1 week ago
  • Latest News

TRP Rating Scam – टीआरपी रेटिंग क्या होती है? | इसे कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

गुरुवार को मुंबई पुलिस कमिश्नर (क्राइम ब्रांच) परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर TRP रेटिंग में… Read More

1 week ago
  • सामान्य ज्ञान

उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान — Uttar Pradesh GK in Hindi

उत्तर प्रदेश GK उत्तर प्रदेश (UP) जनसँख्या की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य… Read More

2 weeks ago
  • सामान्य ज्ञान

अक्टूबर माह के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय दिवस – October Important Days

अक्टूबर माह के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय दिवस की सूची (List of Important National and… Read More

2 weeks ago
  • सामान्य ज्ञान

मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान — Madhya Pradesh GK in Hindi

मध्य प्रदेश GK मध्य प्रदेश राज्य भारत के मध्य में स्थित है, इसलिए इसे भारत का… Read More

2 weeks ago